मारपीट कर चाकू से प्रहार करने वाले तीन आरोपियों को एक-एक वर्ष की सजा

ग्वालियर, 28 दिसम्बर। न्यायिक मजिस्ट्रेट जिला ग्वालियर सुश्री उपमा भार्गव की अदालत ने मारपीट कर चाकू से प्रहार करने वाले आरोपीगण मनोहरलाल शाक्य, नीरज शाक्य, अनिल जाटव को धारा 323, 324, 325, 34 भादंवि में एक-एक वर्ष सश्रम कारावास एवं 2500-2500 रुपए जुर्माने से दण्डित किया है।
अभियोजन की ओर से प्रकरण की पैरवी कर रहे सहायक जिला लोक अभियोजन अधिकारी पवन कुमार शर्मा ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि फरियादी शंकरसिंह जाटव ने थाने पर उपस्थित होकर मौखिक सूचना दी कि 12 नवंबर 2015 को दोपहर 2:30 बजे वह अपने घर पर था, उसकी बहन ऊषा जाटव आई और बोली लड़का विशेष जाटव को अंकुर शाक्य ने मारा है। वह अपनी बहन ऊषा जाटव के घर गया तो वहां पर मनोहर, अंकुर और नीरज मिले, उसने कहा कि तुमने उसके भानजे विशेष जाटव व बहन ऊषा को क्योंं मारा। इसी बात पर से तीनों ने गाली गलौज कर लात-घूसों से मारपीट तथा चाकू से प्रहार करने लगे, जिससे उसको चोटें आईं और बोले अगर आज के बाद इधर दिखा तो जान से खत्म कर देंगे। फरियादी की रिपोर्ट पर थाना जनकगंज पुलिस ने अपराध क्र.794/2015 पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया। विवेचना के दौरान घटना स्थल का नक्शा मौका, सूचनाकर्ता तथा अन्य साक्षीगण के कथन लेखबद्ध किए गए। विवेचना दौरान अभियोग पत्र न्यायालय के समक्ष पेश किया। न्यायालय ने अभियोजन साक्ष्य एवं गवाहों से सहमत होकर आरोपीगणों को सजा सुनाई है।