100 बीघा जमीन में सनातन धर्म महा समागम का होगा आयोजन

30 बीघा में बनी पार्किंग, सात सेक्टरों ने ली जिम्मेदारी
कुम्भ की तर्ज पर बने 100 से अधिक कमरे

भिण्ड, 21 जनवरी। गोहद क्षेत्र के श्री रघुनाथजी मन्दिर विजयराम धाम ग्राम खनेता में 30 जनवरी से छह फरवरी तक सनातन धर्म महासमागम को लेकर मन्दिर प्रांगण में शनिवार को एक दर्जन से अधिक गांवों के ग्रामीणों के बीच जिम्मेदारियों का बंटवारा किया गया। ग्रामीणों ने स्वेच्छा से अपनी-अपनी जिम्मेदारियों निर्वहन करने का आश्वासन श्रीश्री 1008 महामण्डलेश्वर श्री रामभूषण दासजी महाराज को दिया है।
महाराज श्री राजकुमार शास्त्री ने बताया कि 100 बीघा जमीन में कथा स्थल, भोजन स्थल, यज्ञशाला निर्मित की गई है, जिसमें डेढ़ लाख श्रृद्धालुओं की व्यवस्था है। 30 बीघा जमीन में अलग-अलग स्थानों पर पार्किंग की व्यवस्था है, श्रृद्धालुओं के व्यवस्था को लेकर सात सेक्टर बनाए गए हैं। एक सेक्टर में 100 से 150 सेवक रहेंगे, जो एक साथ 20 हजार लोगों के भोजन की व्यवस्था बनाएंगे। दिल्ली, मुंबई, पुणे, गुजरात, महाराष्ट्र, लखनऊ आदि शहरों से आने वाले श्रृद्धालुओं के लिए कुम्भ की तर्ज पर 100 से अधिक टीनशेड के कमरे बनकर तैयार हो चुके हैं। आस-पास के ग्रामों में सनातन धर्म महासमागम को लेकर अच्छी खासी खुशी देखी जा रही है। प्रशासन भी पूरी मुस्तैदी के साथ व्यवस्थाओं को बनाने में सहयोग बनाए हुए हैं।
श्री रघुनाथजी मन्दिर विजयराम धाम खनेता के महंत श्रीश्री 1008 महामण्डलेश्वर श्री रामभूषण दासजी महाराज बताते हैं कि गोलोक वासी गुरुदेव श्री विजयराम दासजी महाराज की 25वीं रजत जयंती महोत्सव पर चार संप्रदाय के शंकराचार्य, भारत के कई विद्वान महान संत समागम का हिस्सा बनेंगे। उनके दर्शन और प्रवचनों से भक्तों को लाभ होगा। उन्होंने बताया कि जिन गांवों के ग्रामीणों की सैक्टर विभाजित कर व्यवस्था की जिम्मेदारी सौंपी गई है। उनमें सेक्टर छरेटा, छिमका, नावली, सर्वा, तुकेड़ा, चंदोखर, कनीपुरा, जसरथपुरा, तेहरा, सेक्टर शेरपुर को संपूर्ण भोजन की संपूर्ण परोस व्यवस्था, तुड़ीला, झावलपुरा, नौनेरा, खनेता को सेक्टरों में भोजन पहुंचाना व पतल उठवाना, नौनेरा, एण्डोरी, छटेरा, छीमका बच्चों के हाथों बाल भोग की व्यवस्था कराएंगे।