भ्रष्टाचार खत्म कर ईमानदार सरकार बनाना हमारा संकल्प : विवेक शर्मा

भिण्ड, 17 मई। अभी पंजाब में आप को मिली प्रचण्ड बहुमत की जीत के बाद भगवंत मान की नए विकल्प की सरकार बन जाने से अब मध्य प्रदेश में भी लोगों के अंदर इस बात को लेकर अफरा-तफरी भरा माहोल बन चुका है। यहां भी लोग चाहते कि ऐसा ही एक नया ताकतवर विकल्प तैयार हो। जो सत्ता परिवर्तन कर सके। क्योंकि परिवर्तन की जो उम्मीदें कांग्रेस पार्टी से पाल रखी थी, वे उम्मीदें अब पूरी तरह से खत्म होती नजर आ रही है। यह बात आम आदमी पार्टी वरिष्ठ नेता विवेक शर्मा ने प्रेस को जारी विज्ञप्ति में कही
शर्मा ने बताया कि आपसी फूट, गुटवाजी, परिवारवाद और क्षत्रपों की जिद के आगे आज प्रदेश में विपक्षी नेतृत्व तो दिखाई देता है, लेकिन बेवस, बेहद कमजोर लचड़ और लाचार है। इसी वजह से पार्टी का जमीनी संगठन का ढांचा आज खण्ड-खड हो चुका है। साथ ही जिस तरह से इनके विधायकों का चुनाव में जीत जाने के बाद कभी भी पार्टी छोड़ कर भाजपा में चले जाने के इस रिवाज से जनता का भरोसा अब इन लोगों से पूरी तरह से उठ चुका है, क्योंकि जनता बदलाव चाहती है। महत्वपूर्ण बात यह है कि प्रदेश का शीर्ष नेतृत्व भी अपने विधायकों का कांग्रेस छोड़ भाजपा में चले जाने वाली इस रिवाज को तोडऩे में नाकाम साबित हो चुका है। यह सिलसिला एक लंबे अरसे से आज तक बराबर जारी है।
आम आदमी पार्टी वरिष्ठ नेता विवेक शर्मा ने बताया कि वहीं दूसरी ओर 20 साल से मप्र में भाजपा सत्ता में जरूर है, लेकिन युवाओं को रोजगार और सिस्टम से भ्रष्टाचार रोकने के मामलों को ये लोग अभी तक खत्म नहीं कर पाए हैं। आम आदमी पार्टी किसी की निंदा नहीं करती है, पार्टी भाजपा या कांग्रेस को हराने के लिए काम नहीं कर रही है, बल्कि मप्र और उसकी जनता को अशिक्षा, स्वास्थय, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार, बिजली, पानी और सड़कों की 70 साल पुरानी लड़ाई से जिताने के लिए काम कर रही हैं। हमारा प्रदेश से भ्रष्टाचार खत्म कर कट्टर ईमानदार सरकार बनाना संकल्प है। भाजपा प्रदेश में पिछले 20 वर्षों से राज कर रही है। इसलिए वो और उनके लोग घमण्डी हो गए हैं। ना तो आम जनता की सुनते है ना ही उन पर ध्यान देते हैं। आम आदमी पार्टी प्रदेश से भ्रष्ट तंत्र, लूट तंत्र और अशिक्षा को खत्म करके एक स्वस्थ लोकतंत्र का निर्माण करना और दिल्ली में चल रही आम आदमी पार्टी जैसी मप्र में भी कट्टर ईमानदार सरकार बनाना चाहती है।