सभी विद्यालय स्कूल बैग पॉलिसी का कड़ाई से पालन करें

भिण्ड, 02 अगस्त। प्रधान जिला न्यायाधीश एवं अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण भिण्ड अक्षय कुमार द्विवेदी के आदेशानुसार जिविसेप्रा भिण्ड के एडीआर सेंटर में जिले में संचालित निजी विद्यालयों के संचालकों के साथ भारत सरकार की ‘स्कूल बैग पॉलिसी 2020’ के कठोरता से पालन सुनिश्चित करने हेतु बैठक का आयोजन जिला न्यायाधीश एवं सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण भिण्ड सुनील दण्डौतिया की अध्यक्षता में किया गया।
बैठक में उन्होंने उपस्थित संचालकों को अपने-अपने विद्यालयों में भारत सरकार की स्कूल बैग पॉलिसी में दी गई गाइडलाइंस जैसे-बच्चों के स्कूल बैग उनके शरीर के कुल वजन का 1/10 भाग से अधिक नहीं होना चाहिए। किताबों को स्कूल में ही जमा करने की व्यवस्था होनी चाहिए। स्कूलों को सप्ताह का एक दिवस बच्चों को व्यवहारिक कुशलता प्रदाय किए जाने हेतु निर्धारित करना चाहिए आदि का कठोरता से पालन करने के निर्देश दिए गए। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि बैग का वजन भारी होने से बच्चों की रीढ़ की हड्डी पर बजन पडऩे से उनका पूर्णरूप से शारीरिक और मानसिक विकास नहीं हो पाता है। अत: संबंधित स्कूल बच्चों के अभिभावकों से बैठक कर उक्त पॉलिसी का कड़ाई से पालन करने हेतु समन्वय स्थापित करें। इसके अतिरिक्त जिला विधिक सेवा प्राधिकरण भिण्ड ने अभिभावकों को जानकारी देकर बताया कि यदि कोई विद्यालय उक्त पॉलिसी का पालन नहीं करता है तो संबंधित अभिभावक, माता-पिता या छात्र जिला विधिक सेवा प्राधिकरण भिण्ड में इस संबंध में अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं। बैठक में जिला विधिक सहायता अधिकारी जिविसेप्रा भिण्ड सौरभ कुमार दुबे उपस्थित रहे।