आलमपुर में जोरदार बारिश के चलते पानी में डूबी सड़कें

कई जगह हो रहा जल भराव, लोगों का निकलना हुआ मुश्किल, पनप रहे मच्छर

भिण्ड, 23 जुलाई। आलमपुर में गत शुक्रवार एवं शनिवार को हुई जोरदार बारिश के चलते नाले नालियां उफान पर आ गए हैं। और तो और कस्बे में कई जगह सड़कों पर इतना पानी चल रहा था कि सड़कें पानी में डूबी हुई नजर आ रही थीं। आलमपुर कस्बे के बीचों-बीच से गुजरे शा. हाईस्कूल मार्ग का नजारा तो तालाब जैसा नजर आ रही था। सड़क पर तेज बहाव के साथ करीब एक फीट पानी चल रहा था।


इसी प्रकार देभई चौराहे की ओर जाने बाले मार्ग पर पुलिस कॉलौनी के सामने सड़क बारिश के पानी में डूबी हुई थी। यहां भी सड़क पर करीब एक फीट पानी चल रहा था। नाले नालियों का तो अता पता ही नहीं चल रहा था। इस दौरान स्कूली बच्चों एवं राहगीरों को बड़ी कठिनाई के साथ निकलते हुए देखा गया। देभई चौराहे से थाने के पीछे होते हुए खोडऩ मोहल्ला की ओर जाने वाली सड़क के आजू बाजू बना नाला कीचड़ से भरा पड़ा है। जिससे बारिश के दौरान सड़क पर पानी चलने लगता है।
आलमपुर के मैन बाजार में सड़क पर घुटनों तक बारिश का पानी भरा हुआ था। यदि आधा घण्टे बारिश और हो जाती तो कुछ दुकानों में बारिश का पानी भर सकता था। पाण्डेय चौराहे पर पानी निकासी के लिए बनी नालियां संकरी होने की कारण मैन बाजार एवं पाण्डेय चौरहा पर बारिश के दौरान कुछ समय के लिए जल भराव की स्थिति निर्मित हो जाती है। इधर आलमपुर से देभई की ओर जाने वाली सड़क दलदल में तब्दील हो गई है। दुर्गादास राठौर पार्क से लेकर कौरव धर्मकांटे तक सड़क बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो चुकी है और सड़क पर बारिश का पानी भरा हुआ है। जिससे लोगों का निकलना मुश्किल हो गया है। इसी तरह बाजार से चंदेल मोहल्ला होते हुए देभई चौराहे की ओर जाने वाले मार्ग पर राजबहादुर चंदेल के मकान के सामने सड़क पर बारिश का पानी भरने से लोगों को निकलने में कठिनाई हो रही है। आलमपुर कस्बे में पुलिस थाने के सामने दोनों तरफ खाली पड़ी भूमि पर पिछले दो तीन वर्ष से जल भराव की समस्या उत्पन्न हो रही है। लेकिन नगर परिषद आलमपुर द्वारा जल निकासी की ओर बिल्कुल भी ध्यान नहीं दिया जा रहा है। आलमपुर कस्बे में कई जगह हो रहे जल भराव के कारण मच्छर पनप रहे हैं। जिससे लोगों में मलेरिया फैल का भय बना हुआ हैं। लेकिन नगर परिषद प्रशासन और कर्मचारियों द्वारा इस ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा हैं।