सड़क पर पड़े मिले मोबाइल को बृजेन्द्र उसके असली मालिका को सौंपकर दिखाई मानवता

चोरी के बरामद मोबाइलों को पुलिस अधीक्षक ने सौंपा मालिकों को

भिण्ड, 30 मई। भिण्ड पुलिस की साइबर सेल द्वारा चोरी गए 101 मोबाइल को पुलिस अधीक्षक शैलेन्द्र सिंह चौहान ने कंट्रोल रूम में मोबाइल मालिकों को बुलाकर उनका मोबाइल उन्हें सुपुर्द कर बहुत ही सराहनीय कार्य किया है। जिससे भिण्ड जिले की जनता पुलिस अधीक्षक से बहुत प्रसन्न है और जिन लोगों के मोबाइल मिले उन्होंने पुलिस अधीक्षक को पुष्प माला पहनाकर उनका सम्मान किया।
जानकारी के अनुसार गत शुक्रवार को वार्ड क्र.10 पार्क मोहल्ला निवासी रामदयाल श्रीवास पुत्र बृजेन्द्र श्रीवास सुबह 5:30 बजे टहलने के लिए चौराहे से वापस अपने घर की ओर लौट रहे थे। को एक अज्ञात मोबाइल सड़क पर पड़ा मिला। बृजेन्द्र श्रीवास ने बताया कि मैं सुबह टहलने गया था तब मुझे एक अज्ञात मोबाइल जिसकी कीमत लगभग 10 से 12 हजार रुपए होगी। जोकि वीरेन्द्र नगर के सामने से मिला। उन्होंने बताया कि मैंने घर आकर तुरंत ही अपने बेटे साहिल श्रीवास से मोबाइल की फोटो खींचकर अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर अपलोड कर दिया, ताकि यह मोबाइल जिसका हो उसे वापस मिल सके और अगले दिन मोबाइल मालिक सुरेन्द्र ओझा निवासी वीरेन्द्र नगर ने सोशल मीडिया के माध्यम से अपना मोबाइल पहचान लिया और बृजेन्द्र श्रीवास को कॉल करके बताया कि भैया यह मोबाइल मेरा है और उन्होंने अपने मोबाइल का कोड बताया, जिससे यह साफ हो गया कि मोबाइल सुरेन्द्र ओझा का ही है। तब बृजेन्द्र श्रीवास ने एसपी ऑफिस आकर यह पूरी वारदात एसपी शैलेन्द्र सिंह चौहान को बताई।
पुलिस अधीक्षक ने बृजेन्द्र श्रीवास की प्रशंसा करते हुए कहा कि बृजेन्द्र ने मानवता का परिचय दिया है और समाज में इससे एक अच्छा संदेश जाता है कि हर व्यक्ति यदि इसी तरह ईमानदारी से एक दूसरे की मदद के लिए खड़ा हो जाए तो समाज निश्चित रूप से सुधरेगा। एसपी ने बृजेंद्र की प्रशंसा करते हुए मोबाइल मालिक सुरेन्द्र ओझा को उनका मोबाइल उनके हाथों सुपुर्द कर दिया और सुरेन्द्र ओझा ने भी बृजेन्द्र श्रीवास को धन्यवाद कहते हुए कहा कि भैया आप जैसे लोग आज भी हैं, इसी वजह से मानवता जिंदा है, भविष्य में मुझे भी आप जैसा सराहनीय कार्य करने का यदि मौका मिला तो मैं पीछे नहीं हटूंगा।