मुख्यमंत्री नगरीय भू अधिकार योजना कार्यक्रम की स्थानीय प्रशासन द्वारा की गई औपचारिकता

बैकड्रॉप में प्रदेश के मुखिया का ही नाम गलत
कार्यक्रम में न तो एसडीएम, सीईओ उपस्थित रहे और न ही हितग्राही दिखे

भिण्ड, 19 मई। जनपद पंचायत गोहद में मुख्यमंत्री नगरीय भू अधिकार योजना के अंतर्गत कार्यक्रम रखा गया था, जिसमे प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का लाइव प्रसारण दिखाया जाकर हितग्राहियों को योजना के बारे में विस्तृत जानकारी उपलब्ध कराई जाना थी। इस कार्यक्रम में स्थानीय प्रशासन ने भाजपा नेताओं को तो बुलाया, मगर दिलचस्प बात यह रही भाजपा नेता तो कार्यक्रम में पहुंच गए, मगर स्थानीय प्रशासन के सक्षम अधिकारी एसडीएम, तहसीलदार, जनपद पंचायत के सीईओ कार्यक्रम में नहीं पहुंचे। इस कार्यक्रम में जनपद के जनप्रतिनिधिगण जनपद सदस्य, उपाध्यक्ष और जनपद के अध्यक्ष वहां उपस्थित नहीं थे और न ही कार्यक्रम में कोई भी हितग्राही उपस्थित थे। भाजपा मण्डल अध्यक्ष के फोन लगाने पर तहसीलदार औपचाफिकता निभाने आए।
कार्यक्रम में लगे बैनर में भी प्रदेश के मुख्यमंत्री का नाम गलत लिखा गया, इस पर भी किसी प्रशासनिक अधिकारी ने कोई ध्यान नहीं दिया। भाजपा नेताओं की नजर बेनर पर पड़ी तो उन्होंने इस पर कड़ी नाराजगी व्यक्त की। आज के कार्यक्रम से ऐसा प्रतीत हो रहा है कि स्थानीय प्रशासन शासन के कार्यक्रमों की केवल औपचरिकता कर इतिश्री करना चाहता है। शासन की मंशा अनुरूप स्थानीय प्रशासन शासन की योजनाओं को धरातल तक लागू नहीं करवाना चाह रहा।