थाने में नजर बंद करना शिक्षकों का घोर अपमान : डॉ. भारद्वज

आदेश वापस ले सार्वजनिक माफी मांगे कलेक्टर या परिणाम भुगतने को तैयार रहे प्रशासन

भिण्ड, 16 फरवरी। भाजपा सरकार शिक्षकों का अपमान कर रही है। शिक्षक जब आनेवाली पीढ़ी को सही शिक्षा देता है तो उसी से राष्ट्र का निर्माण अच्छा होता है। राष्ट्र के बेहतर निर्माण के लिए यह जरूरी है कि हम अपने शिक्षकों क सम्मान करें। भाजपा ने हर एक वर्ग का सम्मान गिराया है। अब देश के भविष्य निर्माण करने वाले शिक्षकों का भी अपमान करने पर तुली है। यह आरोप कांग्रेस प्रवक्ता डॉ. अनिल भारद्वाज ने लगाया।
प्रवक्ता डॉ. भारद्वाज ने कहा कि अगर जिला प्रशासन नकल मुक्त परीक्षा कराने में अक्षमता महसूस कर रहा है, तो जिला कलेक्टर को जिम्मेदारी छोड़ कोई दूसरा सरल कार्य करें। लेकिन अपनी खीजता को दर्शाने के लिए विषय विशेषज्ञ शिक्षकों का अपमान न करें। अगर कलेक्टर भिण्ड अपना आदेश वापस नहीं लेते तो फिर कांग्रेस पार्टी चुप नहीं बैठेगी और प्रशासन परिणाम भुगतने को तैयार रहे। कांग्रेस नेता ने भाजपा सरकार से भी सावल पूछते हुए कहा कि भाजपा बताए क्या उसे शिक्षकों के उपहास उड़ाने में खुशी मिलती हैं। वैसे भी अतिथि शिक्षकों और अतिथि विद्वानों के परमानेंट करने के वादों से मुकर कर उनका भविष्य चौपट कर रही है।