थाना प्रभारी बनाए गए तोमर को 24 घण्टे में हटाया

एक आदेश के तहत आईजी ऑफिस किया अटेच

भिण्ड, 20 अक्टूबर। फूफ थाने की पोस्टिंग का मामला पुलिस महकमे में चर्चा का विषय बना हुआ है। राजनैतिक हस्तक्षेप के चलते फूफ पुलिस थाने को स्थाई थाना प्रभारी नहीं मिल पा रहा है। अधिकाशत: निरीक्षक की जगह उप निरीक्षक को थाने की कमान सौंपी जाती रही है।
पुलिस अधीक्षक ने जैसे-तैसे निरीक्षक विजय सिंह तोमर को फूफ का थाना प्रभारी बनाया लेकिन अगले ही दिन उन्हें पुलिस महानिरीक्षक कार्यालय से फरमान मिला कि उनको पुलिस महानिरीक्षक चंबल जोन के कार्यालय में संबद्ध किया जाता है। उन्हें उक्त कार्यालय में आमद देने के लिए पुलिस अधीक्षक भिण्ड को निर्देश दिया गया कि वे 20 अक्टूबर को इस कार्यालय हेतु रवानगी दें। राजनैतिक पंडितों की मानें तो निरीक्षक तोमर की पोस्टिंग अटेर विधायक के मनमाफिक नहीं होने के कारण उन्हें वहां से तत्काल हटा दिया गया। यहां बता दें कि जिले में दो बार पदस्थापित होने के बाद भी निरिक्षक तोमर को भिण्ड में किसी भी पुलिस थाने में पदस्थापना नहीं हो सकी, इसकी वजह क्या रही यह तो पुलिस महकमा ही जाने।
उल्लेखनीय है कि थाना क्षेत्र के सरायघार में खाद लूट के मामले में एफआईआर दर्ज नहीं करने पर तत्कालीन उप निरीक्षक प्रभारी थाना फूफ अनीता गुर्जर को निलंबित करने के बाद एसपी मनोज कुमार सिंह ने लाइन में पदस्थ निरीक्षक विजयसिंह तोमर को फूफ थाने की कमान सौंपी थी।