चाइल्ड लाइन टीम ने किया ओपन हाउस कार्यक्रम

भिण्ड, 17 अक्टूबर। चाइल्ड लाइन टीम भिण्ड द्वारा रविवार को वार्ड क्र.36 गोविन्द नगर भिण्ड चाइल्ड लाइन के संचालक शिवभान सिंह राठौर के मार्गदर्शन में ओपन हाउस कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें लगभग 70 बच्चे एवं उनके माता-पिता उपस्थित रहे।
टीम के सदस्य उपेेन्द्र व्यास ने एक्टविटीज के माध्यम से बच्चों को टोल फ्री नं.1098 की जानकारी देते हुए कहा कि चाइल्ड लाइन उन बच्चों के लिए काम करती है जो कि अनाथ हों, बेसहारा हों, अकेले हों, उन्हें पढऩे लिखने की जरूरत हो। यह सेवा मुंबई से शुरू होकर आज पूरे देश में संचालित है और यह एक टोल फ्री नंबर है, अगर कोई बच्चा गुम हो जाए या आपको कोई खोया हुआ बालक मिलता है या कोई बच्चों से भीख मंगवा रहा हो है तथा बच्चों को मेडीकल सुविधा दिलाने, शिक्षा से बंचित बच्चों के लिए माता पिता व नागरिक तथा बच्चे चाइल्ड लाइन नं.1098 कॉल करके मदद मांग सकते हैं। यदि बालिका को कोई रास्ते में परेशान करता है तो भी आप 1098 पर कॉल करके चाइल्ड लाइन से मदद ले सकते हैं। उन्होंने बताया कि अनजान व्यक्ति द्वारा दी गई भी चीच न खाएं।
चाइल्ड लाइन टीम मेंबर अजब सिंह ने बाल विवाह की जानकारी देते हुए बताया कि 18 साल के कम उम्र की बालिका और 21 साल से कम उम्र के लड़के शादी करना कानूनी अपराध है। आप बाल विवाह की जानकारी 1098 पर दे सकते हैं। सूचनाकर्ता की जानकारी गुप्त रखी जाएगी। सदस्य अनमोल चतुर्वेदी ने बच्चों को चाइल्ड लाइन नं.1098 हाथों की अगुंलियों की सहायता से आसान तरीके से याद रखना बताया और कहा कि इस समय डेंगू बुखार से बहुत चल रहा है, बच्चों को उससे बचाव के उपाय बताए। उन्होंने कहा कि यह मच्छर केवल दिन में काटता है सभी हाथों में फुल कपड़े पहनें, रात में मच्छरदानी अवश्य लगाएं। अपने आप-पास सफाई रखे। सदस्य आकाश शर्मा ने बताया कि जो बच्चे अपने माता पिता से बिछुड़ गए हों, वे बच्चे या संबंधित वयस्क कोई भी 1098 पर कॉल करके मदद की गुहार कर सकता है। चाइल्ड नलाइन टीम ने बच्चों को बिस्किट बांटकर मुह मीठा कराया। इस अवसर पर टीम सदस्य धीरेन्द श्रीवास्तव एवं आगनबाड़ी कार्यकर्ता श्रीमती शांतीदेवी सेंगर आदि लोगों ने सहयोग दिया।