न्यायालय में प्रकरण विचाराधीन, पुलिस कर रही है परेशान

विपक्षी पार्टी से मिला है देहात थाने का प्रधान आरक्षक

भिण्ड, 13 सितम्बर। देहात थाना इलाके के ग्राम सिमराव निवासी किशनवीर पुत्र नरपत का गांव के ही हरज्ञान, बंटी एवं रबूदे कुशवाह के विरुद्ध सिविल न्यायालय में प्रकरण विचाराधीन है। बावजूद इसके देहात थाने का सजातीय प्रधान आरक्षक विपक्षी पार्टी गंगाश्री के इशारे पर किशनवीर को प्रताडि़त कर रहा है। इस संबंध में किशनवीर ने एक आवेदन पुलिस अधीक्षक भिण्ड को दिया है।
किशनवीर पुत्र नरपत ने एसपी को प्रेषित आवेदन में कहा है कि उसका सिमराव निवासी हरज्ञान, बंटी, रबूदे, गंगाश्री से आराजी क्र.147, रकवा 1/17 हेक्टेयर के संबंध में सिविल न्यायालय में प्रकरण विचाराधीन है, इस पर प्रार्थी के पक्ष में एसडीएम भिण्ड द्वारा स्टे आदेश दिया जा चुका है। बावजूद इसके उक्त विपक्षी पार्टी के लोग देहात थाने में पदस्थ प्रधान आरक्षक प्रेमसिंह कुशवाह द्वारा प्रार्थी को परेशान कराया जा रहा है। उक्त लोगों ने जब किशनवीर के साथ मारपीट की तो प्रधान आरक्षक द्वारा उसे थाने ले जाकर बिठा लिया और मेडीकल भी नहीं होने दिया और जबरन राजीनाम पर हस्ताक्षर करवा लिए। विपक्षी पार्टी से सांठ-गांठ के चलते देहात थाने का प्रधान आरक्षक फर्जी प्रकरण दर्ज कराने की धमकी दे रहा है। आवेदन में प्रधान आरक्षक एवं हरज्ञान, बंटी, रबूदे के खिलाफ कार्रवाई की मांग की गई है।