एसआरएफ फाउण्डेशन ने बच्चों को प्रशंसा पत्र व गिफ्ट देकर किया प्रोत्साहित

भिण्ड, 19 जुलाई। एसआरएफ फाउण्डेशन द्वारा ग्रामीण शिक्षा कार्यक्रम भिण्ड के अंतर्गत गोहद ब्लॉक के 10 शासकीय विद्यालयों का चयन किया गया है। जिसमें मुख्य रूप से चार बिंदुओं- फिजिकल ट्रांसफॉर्मेशन, एकेडमिक ट्रांसफॉर्मेशन, लीडरशिप एवं डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन पर कार्य किया जा रहा है।


कोरोना महामारी के दौरान स्कूल न लगने व पूर्ण रूप से पढ़ाई न होने पर बच्चों का बड़े स्तर पर लर्निंग लॉस देखने को मिला है। इसी गैप को कम करने व बच्चों को स्कूल शिक्षा से जुड़ाव बनाकर रखने के लिए बच्चों की गर्मियों की छुट्टियों के दौरान 18 मई से 17 जून तक चयनित 10 विद्यालयों में से आठ विद्यालयों में कक्षा तीन से आठवी तक के बच्चों के साथ सुबह 7:30 बजे से 10:30 बजे तक ठण्डे मौसम में स्कूल में शिक्षक एवं समुदाय से चयनित युवा वॉलेंटियर की सहायता से खेल-खेल में शिक्षा आधारित गतिविधियों का आयोजन किया गया। जिसमें खेल-खेल में पढऩा, रचनात्मक कौशल, आर्ट एण्ड क्राफ्ट, साइंस मॉडल, स्वच्छ विद्यालय गतिविधि, पीयर लर्निंग एवं क्विज प्रतियोगिता, समर कैम्प के दौरान बच्चों को भयमुक्त वातावरण देने व एक दूसरे की क्षमताओं एवं कौशल को निखारते हुए सीखने सिखाने का कार्य किया गया।
मंगलवार को गोहद ब्लॉक के शा. माध्यमिक विद्यालय सर्वोदय में समर कैम्प में विभिन्न गतिविधियों में विजेताओं को सर्टिफिकेट व स्कूल बैग, छाता, पेंटिंग डोम किट आदि वितरित की गई। इस अवसर पर जिला शिक्षा केन्द्र भिण्ड से एपीसी एकेडमिक संदीप कुशवाह, बीएसी गोहद शिव सिंह गुर्जर, खेम नारायण, सत्येन्द्र, श्रीनारायण एवं एसआरएफ फाउण्डेशन भिण्ड के जिला कार्यक्रम अधिकारी चैनसिंह किरार एवं फील्ड ऑफिसर सहित अन्य स्टाफ उपस्थित रहे।