समूह चर्चा से आत्म विश्वास बढ़ता है, यह व्यक्तिव विकास में सहायक है : डिप्टी कलेक्टर जैन

भोपाल में आयोजित यूथ महा पंचायत के लिए जिला स्तर पर हुआ युवाओं का चयन

भिण्ड, 18 जुलाई। मप्र की माटी के वीर सपूत महान क्रांतिकारी चंद्रशेखर आजाद की 116वीं जयंती के अवसर पर 23 और 24 जुलाई को भोपाल में आयोजित यूथ महा पंचायत में युवाओं की भागीदारी व विमर्श हेतु जिले के अग्रणी शा. एमजेएस महाविद्यालय भिण्ड में जिला स्तर पर युवाओं का चयन किया गया। जिले के पांच स्क्रीनिंग केन्द्रों से चयनित युवाओं का सर्वप्रथम पंजीयन कर उन्हें चेस्ट नंबर प्रदान किए गए, उसके बाद रैंडमाइज करके 15-15 युवाओं के चार समूह बनाए गए।
प्रत्येक समूह को निर्णायक दल ने एलॉट किए गए विषय पर प्रत्येक प्रतिभागी ने बारी-बारी से विचार रखे, उसके बाद समूह चर्चा हुई। प्रत्येक समूह से दो से तीन व्यक्तियों को चुनकर बाद में उन चयनित प्रतिभागियों के बीच फाइनल राउण्ड आयोजित किया गया। इसके बाद अलॉट किए गए विषय पर अंतिम चयन किया गया। ये चयनित युवा 23 और 24 को भोपाल की यूथ महापंचायत में अपने जिले के युवाओं का प्रतिनिधित्व करेंगे। समूह वार आबंटित विषय लोकतंत्र में युवाओं की निर्णायक भागीदारी, समाज निर्माण में अग्रसर युवा, खेलो में एमपी के लिए अपार संभावनाएं, उद्यमिता व स्वरोजगार में बढ़ते अवसर, मेरा एमपी मेरा गौरव और पर्यावरण के प्रति युवाओं की जिम्मेदारी पर प्रतिभागी के मापदण्ड दक्षता, विषय का ज्ञान, विचारों की स्पष्टता, आचरण, विपक्ष के मतों के प्रति धैर्यता और काउंटर प्वाइंट रखने की क्षमता इन छह बिंदुओं के प्राप्तांकों के आधार पर उत्कृष्ट युवाओं का चयन किया गया।
निर्णायक दल सदस्य की भूमिका में कवि डॉ. सुनील त्रिपाठी निराला, समाजसेवी अतुलकांत शर्मा, जन अभियान परिषद के जिला समन्वयक शिवप्रताप सिंह भदौरिया, नेहरू युवा केन्द्र के जिला युवा अधिकारी आशुतोष साहू, जिला खेल एवं युवा कल्याण विभाग के खेल प्रशिक्षक संजय सिंह द्वारा चयन प्रक्रिया संपन्न कराई गई और प्रबंधन समिति सदस्य के रूप में प्रो. सुनील त्रिपाठी, प्रो. ममता भदौरिया और रासेयो कार्यक्रम अधिकारी धीरज सिंह गुर्जर मौजूद रहे।
इस अवसर पर डिप्टी कलेक्टर पराग जैन ने कहा कि युवा देश का भविष्य हैं। ऐसे प्लेटफार्म युवाओं को आगे बढऩे के अवसर उपलब्ध कराते हैं। समूह चर्चा से आत्म विश्वास बढ़ता है, जो व्यक्तित्व विकास में सहायक है। प्राचार्य डॉ. बृजवाला राय ने कहा कि समूह चर्चा से ज्ञान का आदान प्रदान होता है। जिला नोडल अधिकारी प्रो. हरिशंकर कंसाना ने स्वागत भाषण के साथ कार्यक्रम की भूमिका पर प्रकाश डाला। इस दौरान प्रो. अनूप श्रीवास्तव, प्रो. अभिषेक यादव, प्रो. प्रदीप भदौरिया, प्रो. देवेन्द्र तोमर, डॉ. केके रायपुरिया, प्रो. ममता भदौरिया, सुधा नरवरिया, श्याम निगम, रासेयो कार्यक्रम अधिकारी धीरज सिंह गुर्जर, प्रो. गिरिजा नरवरिया सहित 59 प्रतिभागी मौजूद थे। जिला महापंचायत में युवाओं का चयन भोपाल की यूथ महापंचायत में सहभागिता के लिए किया गया।