प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर योजना से सफल हुए रविन्द्र

भिण्ड, 29 मई। कोरोनाकाल के शुरुआती दिनों में जिनका सब कुछ खत्म हो गया था। दाने-दाने को मोहताज हो गए थे, फिर से अपना काम शुरू किया और आज रविन्द्र आत्म निर्भर हैं। अपने परिवार का भरण-पोषण कर सुखद जीवन यापन कर रहे हैं।
भिण्ड शहर के वार्ड क्र.35 सरस्वती नगर निवासी रविन्द्र फल का ठेला लगाने वाले का धंधा कोरोनाकाल के शुरुआती दौर में लागू लॉकडाउन के दौरान बंद हो गया था। लॉकडाउन के चलते धंधा बंद होने से घर खर्च चला पाना मुश्किल हो गया था। साथ ही मकान का किराया भी नहीं दे पा रहे थे। रविन्द्र को समझ नहीं आ रहा था कि आखिर क्या किया जाए, जिससे घर की आर्थिक स्थिति में सुधार आ सके। लेकिन केन्द्र सरकार एवं राज्य सरकार के स्तर से स्ट्रीट वेंडर्स के लिए लागू प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर योजना के जरिए ऋण हासिल कर रविन्द्र का जीवन फिर से पटरी पर आ गया है। स्ट्रीट वेंडर योजना के तहत पंजीयन कराने के कुछ दिन बाद ही उनको पंजाब नेशनल बैंक से 10 हजार रुपए का ऋण मिला। जिससे रविन्द्र फिर से फल का ठेला लगाने लगे हैं। उन्होंने बताया कि इस राशि से उन्होंने अपना धंधा बढ़ाया, अब फिर से जीवन पटरी पर लौटने लगा है। अब वह प्रतिदिन 300 से 400 रुपए तक कमा लेते हैं जिससे घर खर्च की मुश्किल भी आसान हो गई है। रविन्द्र प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहते हैं कि यह योजना हम जैसे पथ विक्रताओं के लिए वरदान है। इससे हम अपना व्यवसाय सुदृढ़ कर पाने में सक्षम हो पा रहे हैं।