असफलताओं से कभी घबराना नहीं चाहिए : संगीता तोमर

प्रतिभा सम्मान समारोह कार्यक्रम संपन्न

भिण्ड, 06 मई। सफलता और असफलता जीवन के दो पहलू हैं, असफलताओं से कभी घबराना नहीं चाहिए, छात्रों को कुछ कर गुजरने के लिए लक्ष्य निर्धारित करना बहुत जरूरी है और लक्ष्य निर्धारित करने के लिए आधार की जरूरत होती है। छात्रों की प्रथम गुरू उनकी मां होती है जो बच्चों को संस्कारवान बनाती है उसके बाद बच्चों के दूसरे गुरू शिक्षक होते हैं, जो विद्यार्थियों के भविष्य का उन्नत मार्ग प्रशस्त करते हैं। यह बात हाउसिंग कॉलोनी स्थित मां सरस्वती शिक्षण संस्थान में आयोजित प्रतिभा सम्मान समारोह में मुख्य अतिथि की आसंदी से पीएचई विभाग की जिला सलाहकार अधिकारी संगीता तोमर ने कही। कार्यक्रम ध्यक्षता सेवानिवृत्त अधिवक्ता महेन्द्र चौधरी ने की एवं विशेष अतिथि के रूप में पुलिस विभाग के स्टेनो रामकुमार पाण्डे उपस्थित रहे। इस अवसर पर प्रो. इकबाल अली, प्रो. रामानंद शर्मा, शैलेश सक्सेना, नितिन दिक्षित, अरविंद पावक, विपुल सेठ, योगेश शर्मा, विकास कुशवाह, सचिन बघेल, शैलेन्द्र यादव, उमेश वर्मा, देवराज यादव आदि उपस्थित थे।
विशिष्ट अतिथि रामकुमार पाण्डे ने कहा कि अच्छी शिक्षा व्यक्ति का सर्वांगीण विकास करती है, शिक्षा धन से बढ़कर है, जो कभी खत्म नहीं होती। उन्होंने कहा कि सकारात्मक सोच आपके व्यक्तित्व के विकास में मील का पत्थर साबित होगी। वरिष्ठ अधिवक्ता महेन्द्र चौधरी ने कहा कि आप लोगों ने जो सफलता हासिल की है उसके लिए सम्मान मिला है इसे वे संभाल कर रखें और प्रेरणा लेकर आगे के सम्मान में रास्ता बनाएं।
इस अवसर पर प्रो. इकबाल अली ने कहा कि छात्र छात्राओं को उनके प्रयासों के लिए प्रोत्साहित किया जाना चाहिए, इससे उनके भीतर आत्मविश्वास और बेहतर प्रदर्शन करने की भावना का संचार होता है। उन्होंने कहा कि शिक्षा मानव को एक अच्छा इंसान बनाती है शिक्षा में ज्ञान, उचित आचरण और तकनीकी दक्षता, शिक्षण और विद्या प्राप्ति आदि समाविष्ट होता है। प्रो. रामानंद शर्मा ने कहा कि प्रतिभा सम्मान समारोह के आयोजन से बच्चों को कुछ करने की प्रेरणा मिलती है उनके जज्बातों को एक नई दिशा मिलती है।
कार्यक्रम के अंत में माध्यमिक शिक्षा मण्डल बोर्ड द्वारा आयोजित हाईस्कूल व हायर सेकेण्ड्री के परीक्षा परिणाम में जिले में तृतीय स्थान प्राप्त करने वाली कक्षा दसवीं की छात्रा कल्याणी शर्मा, सुरभि मिश्रा, श्रेयांश जैन, आशीष सत्यार्थी आदि छात्र-छात्राओं को शील्ड देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का संचालन विपुल सेठ और आभार अरविंद पावक ने व्यक्त किया।